01:34 Tue, May 28, 2024 IST
jalandhar
polution 66 aqi
29℃
translate:
Tue, May 28, 2024 11.26AM
jalandhar
translate:

Punjab News: पंजाब के बीजेपी जालंधर शहरी महामंत्री अशोक सरीन हिक्की ने चुनाव आयोग से की शिकायत, देखिए लेटर

PUBLISH DATE: 02-04-2024

Punjab News: पंजाब के बीजेपी जालंधर शहरी महामंत्री अशोक सरीन हिक्की ने चुनाव आयोग से शिकायत की है। शिकायत में लिखा गया है कि देश में लोकसभा चुनावों को लेकर देश में चुनाव आचार संहिता लगी हुई है। जिसको लेकर पूरे देश के शासनिक प्रशासनिक अधिकारियों को चुनाव आयोग के साफ एवं सीधे निर्देश है कि बिना पक्षपात और किसी भी राजनीतिक दल एवं राजनेता के दबाव में कोई भी कार्रवाई नहीं की जाएगी। जिससे किसी भी राजनीतिक दल एवं राजनेता को निजी चुनावी लाभ मिल सके। आपके ध्यान में लाना चाहते हैं कि हमारे जालन्धर नगर निगम के बिल्डिंग विभाग में लंबे समय से भ्रष्टाचार चर्म सीमा पर नेताओं एवं अधिकारियों की मिलीभुगत से चल रहा था। जिसके चलते सैंकड़ो अवैध निर्माण पिछले कुछ समय में नगर निगम अधिकारियों एवं आम आदमी पार्टी के नेताओं ने उक्त सभी अवैध निर्माण अवैध कलोनियां बनवाई हैं जिसको लेकर 400-500 से यादा अवैध निर्माणों की डिटेल भी नगर निगम के पास मौजूद है जिस पर कार्रवाई करने के नाम पर पिछले लंबे समय से नगर निगम के अधिकारी एवं राजनेता दबाव बनाकर लोगों से वसूली करते आ रहे हैं। हमारे जालन्धर शहर में अवैध निमार्णों पर कार्रवाई ना करने को लेकर आम आदमी पार्टी के नेता व नगर निगम के अधिकारियों ने सरकारी रिकार्ड में दर्ज सभी शिकायतों को आधार बनाकर लोगों पर निगम का सरकारी एक्शन करवाने का दबाव बनाना शुरू कर दिया है कि आने वाले लोकसभा चुनावों में आम आदमी पार्टी का समर्थन करें नहीं तो नगर निगम जालन्धर में दर्ज आप की शिकायत जिस पर लंबे समय से किसी प्रकार की कोई कानूनी कार्रवाई नहीं हुई है उस पर कानूनी कार्रवाई आप की बिल्डिगें गिराने की शुरू हो जाएंगी। इतना ही नहीं नगर निगम अधिकारियों एवं आम आदमी पार्टी के नेताओं ने मिल कर कुछ समय पहले सरकारी रिकार्ड में जिन अवैध इमारतों को सील करवाया था और बाद में खुद सैटिंग कर गैर कानूनी तरीके से उन सभी इमारतों की सरकारी सीलों की तुड़वाया या खुलवाया गया है उन सभी लोगों पर भी सीधे तौर पर नगर निगम के अधिकारी व आम आदमी पार्टी के नेता लोकसभा चुनावों में आप' पार्टी को समर्थन करने का दबाव सरकारी तंत्र का इस्तमेमाल करके बना रहे हैं।