08:59 Sun, Jun 23, 2024 IST
jalandhar
polution 66 aqi
29℃
translate:
Sun, Jun 23, 2024 11.26AM
jalandhar
translate:

जालंधर, पंजाब इंस्टीच्यूट आफ मेडिकल साइंसिज (पिम्स) में विश्व हाइपरटेंशन डे पर मेडिसन विभाग में जागरुकता कैंप लगाया गया।

PUBLISH DATE: 17-05-2024

जालंधर, पंजाब इंस्टीच्यूट आफ मेडिकल साइंसिज (पिम्स) में विश्व हाइपरटेंशन डे पर मेडिसन विभाग में जागरुकता कैंप लगाया गया।



जागरुकता कैंप में पिम्स के मेडिसन विभाग के प्रोफेसर एंड हेड डा. एन. एस नेकी ने लोगो को जागरुक किया । 
उन्होंने कहा कि इस साल का थीम है Measure Your Blood Pressure Accurately, Control It, and Live Longer इसका मतलब है ब्लड प्रेशर को कंट्रोंल करें। इसे कंट्रोल करके आप आप लंबे समय तक सामान्य रूप से लंबे समय तक अपना जीवन यापन कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि हाई बीपी के लक्ष्ण को नजरअंदाज मत करें। उन्होंने कहा क आजकल हाईबीपी की समस्या लोगों के बीच एक कामन समस्या बनकर उभर रही है। चिंता की बात यह है कि हाइपरटेंशन की समस्या हार्ट अटेक औऱ स्ट्रोक का खतरा पैदा करके व्यक्ति के लिए जान का जोखिम भी पैदा कर सकती है।



उन्होंने आगे बताया कि एक नार्मल ब्लड प्रेशर 120/80 के बीच होना चाहिए। अगर बीपी इससे ऊपर जाता है तो समझो ऐसी स्थिति बनती है जो हार्ट अटैक, स्ट्रोक   और किडनी फेलियर का जोखिम बढ़ जाता है। 
इस अवसर पर पिम्स के डायरेक्टर प्रिंसीपलडा. राजीव अरोड़ा ने पहले तो सभी मरीजों और उनके साथ आए हुए पारिवारिक सदस्यों का धन्यवाद व्यक्त किया कि इस गंभीर विष्य को सुनने के लिए आएं है। उन्होंने कहा कि ज्यादातक लोग अपना बीपी चैक ही नहीं करवाते। अगर करवाते हैं


तो उस पर ज्यादा ध्यान नहीं देते यहीं से खतरे की घंटी बजनी शुरू होती है।  उन्होंने इससे बचने के कुछ टिप्स दिए। उन्होंने कहा कि नमक का सेवन सीमित करें, संतुलित मात्रा में आहार लें,  अपने तनाव को कम करें, ब्ल्ड प्रेशर की जांच नियमित करवाते रहें औऱ समय- समय पर डाक्टर के कहे अनुसार दवाएं ले। अपने आप दवा को बंद या शुरू मत करें। सबसे जरूरी है कसरत या योगा ।
इस अवसर पर मेडिसन विभाग, नर्सिंग स्टाफ के अलावा अन्य विभागों के डाक्टर और स्टाफ मौजूद था।