उद्धव ठाकरे आज मेरा घर टूटा है कल तेरा घमंड टूटेगा-कंगना

Kangna Ranaut

उद्धव ठाकरे आज मेरा घर टूटा है कल तेरा घमंड टूटेगा-कंगना

रवि रौणखर, जालंधर

बॉलीवुड एक्टर कंगना रनोट ने महाराष्ट्र की सत्ता को बड़ी चुनौती दी है। सीएम के खिलाफ तू तड़ाक की भाषा में अपनी भड़ास निकाली है। असल में मुंबई के नगर निगम (Brihanmumbai Municipal Corporation) बीएमसी ने कंगना के दफ्तर को अवैध निर्माण बता तोड़ना शुरू कर दिया था। कंगना लगातार सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर महाराष्ट्र सरकार और पुलिस पर हमला बोल रही थी। ऐसे में इस कार्रवाई को सरकार के बदले के तौर पर देखा जा रहा है। इसके खिलाफ कंगना ने बुधवार को ट्वीट करके उद्धव ठाकरे पर सीधा हमला बोला। नीचे पढ़ें कंगना ने क्या कहाः

उद्धव ठाकरे तुझे क्या लगता है कि तूने फिल्म माफिया के साथ मिलके, मेरा घर तोड़ के, मुझसे बहुत बड़ा बदला लिया है? आज मेरा घर टूटा है। कल तेरा घमंड टूटेगा। ये वक्त का पहिया है। याद रखना। हमेशा एक जैसा नहीं रहता। और मुझे लगता है कि तुमने मुझ पर बहुत बड़ा एहसान किया है। क्योंकि मुझे पता तो था कि कश्मीरी पंडितों पर क्या बीती होगी। आज मैने महसूस किया है। और आज मैं इस देश को वचन देती हूं कि मैं सिर्फ अयोध्या पर ही नहीं कश्मीर पर भी एक फिल्म बनाऊंगी। और अपने देश वासियों को जगाऊंगी। क्योंकि मुझे पता था यह हमारे साथ होगा तो होगा लेकिन यह मेरे साथ हुआ है। इसका कोई मतलब है। इसके कोई माइने हैं। और उद्धव ठाकरे- यह जो क्रूरता और ये जो आतंक है। अच्छा हुआ यह मेरे साथ हुआ क्योंकि इसके कुछ माइने हैं। जय हिंद। जय महाराष्ट्र।”

नीचे क्लिक कर वीडियो देखेंः

 

नीचे वीडियो में देखें कंगना का टूटा हुआ दफ्तर

जैसे ही बीएमसी ने कंगना का ऑफिस तोड़ना शुरू किया उन्होंने बांबे हाईकोर्ट स्टे ऑर्डर ले लिया लेकिन तबतक काफी दफ्तर तोड़ा जा चुका था। कहा जा रहा है कि दफ्तर को बनाने का खर्च लगभग 48 करोड़ रुपए आया है।

kangna office

 

उन्होंने एक के बाद एक ट्वीट किए जिसमें एक ट्वीट में उन्होंने बीएमसी की कार्रवाई की तुलना बाबर के राम मंदिर को तोड़ने से की।

‘यह एक इमारत (ऑफिस) नहीं, राम मंदिर है, आज वहां बाबर आया है। उन्होंने कहा कि दुश्मनों ने साबित किया कि मुंबई को पीओके कहकर गलती नहीं की।’

 

“ये मुंबई में मेरा घर है,मैं मानती हूँ महाराष्ट्रा ने मुझे सब कुछ दिया है, मगर मैंने भी महाराष्ट्रा को अपनी भक्ति और प्रेम से एक ऐसी बेटी की भेंट दी है जो महाराष्ट्रा शिवाजी महाराज की जन्मभूमि में स्त्री सम्मान और अस्मिता केलिए अपना ख़ून भी दे सकती है, जय महाराष्ट्रा”

कंगना शुरू से ही बॉलीवुड में नेपोटिजम पर बोलती रही हैं। उनका कहना है कि बॉलीवुड के कुछ डायरेक्टर, प्रॉड्यूसर, एक्टर, राजनेता और अंडरवर्ल्ड फिल्म इंडस्ट्री पर कब्जा जमाए बैठे हैंं। वह अपने बच्चों को ही सिल्वर स्क्रीन पर देखना चाहते हैं। वह गैर योग्य और कम टेलेंटेड एक्टरों के बच्चों को ही हीरो बनाते हैं।

किसी बाहरी को आउटसाइडर कहा जाता है। आउटसाइडर और काबिल एक्टर्स को बहुत संघर्ष का सामना करना पड़ता है। इन एक्टर्स को तरह तरह के समझौते करने पड़ते हैं। वह जैसे जैसे फिल्में साइन करते जाते हैं वैसे वैसे बॉलीवुड माफिया के दलदल में धंसते चले जाते हैं। सुशांत के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ।

कंगना हमेशा अपने संघर्ष की बातें भी बताती रहती हैं कि किस तरह से उन्हें बॉलीवुड में माफिया से लड़ना पड़ा और उस दलदल से वह कैसे बाहर निकलीं। कंगना की इन्हीं बातों के चलते बॉलीवुड माफिया और वहां की सत्ता पर आसीन पार्टियों ने उनके खिलाफ एक्शन लेने शुरू कर दिए। उनका दफ्तर तोड़ा जाना उसी बदले की कार्रवाई का हिस्सा है।

हालांकि कंगना को इससे जबरदस्त पब्लिसिटी भी मिल रही है। लोग लाखों की संख्या में उनके साथ जुड़ने लगे हैं। कंगना ने भी अब खुलकर तू तड़ाक की भाषा के साथ राजनेताओं पर हमला बोलना शुरू कर दिया है।

कंगना ने अब अयोध्या और कश्मीरी पंडितों पर फिल्म बनाने की घोषणा की है। आज तक कश्मीरी पंडितों का दर्द दिखाने वाली एक भी बॉलीवुड फिल्म नहीं बन पाई है। अयोध्या के मंदिर को बाबर द्वारा तोड़ा जाना और 2019 में उस मंदिर का आधारशिला तक की कहानी भी कंगना अपनी फिल्म के जरिए पर्दे पर उतारने वाली है।

1 Comment

Post a Comment

Translate »
error: Content is protected !!