क्या मेजर सिंह व उसके साथियों से डरता है कोरोना : सिमरनजीत सिंह

क्या मेजर सिंह व उसके साथियों से डरता है कोरोना : सिमरनजीत सिंह

👉 कहा मेजर ने कोरोना गाइडलाइन की उलंघना कर लगाया धरना
👉 कमिश्नर पुलिस के खिलाफ बनती कार्रवाई करने के लिए दी शिकायत

(HNI ब्यूरो) :  आरटीआई एक्टिविस्ट सिमरनजीत सिंह व खादी बोर्ड के डायरेक्टर मेजर सिंह के बीच शुरू हुआ विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। पुडा ग्राउंड में हुए बवाल के बाद थाना न्यू बारादरी में धरना लगाने से लेकर पर्चा दर्ज होने एवं अलग-अलग जगह शिकायतों का दौर चलने के बाद अब एक नई शिकायत सामने आई है।
सिमरनजीत सिंह ने अब मेजर सिंह पर कोरोना गाइडलाइंस का उल्लंघन करने संबंधी कमिश्नर पुलिस जालंधर को एक शिकायत दी है।

सिमरजीत सिंह का कहना है कि क्या मेजर सिंह व उसके साथियों से कोरोना को डर लगता है ?

मेजर सिंह व उसके साथियों, जिन्होंने कोरोना गाइडलाइन की उलंघना कर थाने में धरना प्रदर्शन किया था। अपनी शिकायत में सिमरजीत सिंह ने गाइडलाइंस का उल्लंघन करने वाले लोगों का नाम देते हुए उनके खिलाफ बनती कानूनी कार्रवाई करने के लिए कहा है।

किन-किन लोगों के खिलाफ दी गई है शिकायत ?

सिमरनजीत सिंह ने मेजर सिंह, रिपुन दौलतपुरिया, कांग्रेसी नेता और प्रापर्टी कारोबार करने वाले श्रीकंठ जज, हरजिंदर सिंह लाडा, गुरनाम सिंह मुलतानी, सोनू भंडारी, मोहिंदर ​सिंह गुल्लू, वकील हरमिंदर सिंह संधू, पार्षद ओंकार राजीव टिक्का, सारंगल पार्षद, रशपाल पाला, टीटू सिंगला, लवली (नेशनल स्विचगियर), लवली का भाई जसपाल, सुभाष अरोड़ा, सुरेश खुराना, गुरदीप सिंह टोनी, तनु, रिप्पी, अमरजीत सिंह मिट्ठा, मेजर सिंह का बेटा सरगुन सिंह,तरसेम लखोत्रा, पार्षद बचन लाल,सुच्चा सिंह पार्षद, अभी, तरसेम थापा, प्रीतम यूके हैंडलूम, मोंटू सिंह, तुली विवेक सहगल,काका, कुलविंदर सिंह हीरा बोलीना, दीपक बाली, साहिल अरोड़ा, बंटी, राजू, किशन, ज्योति टोनी व मेजर सिंह के बेटे के 10-15 साथियों का नाम शिकायत पत्र में लिखकर कमिशनर गुरप्रीत सिंह भुल्लर को शिकायत दी है।

शिकायत में क्या लगाए गए हैं आरोप ?

सिमरनजीत सिंह ने अपनी शिकायत में कहा है, कि उक्त आरोपी 16-17 दिसंबर व 21 दिसंबर को थाने में एकत्रित हुए और धरना प्रदर्शन किया, जोकि MHA की गाइडलाइन के खिलाफ था। इतना ही नहीं, जिला मजिस्ट्रेट ने धरना प्रदर्शन के लिए एक स्थान तय कर रखा है। बाकी स्थानों पर प्रदर्शन करना गैरकानूनी है। धरना प्रदर्शनकारियों ने कानून की सरेआम उलंघना की है और कोरोना का खतरा बढ़ा है। पुलिस से मांग की गयी है कि आरोपियों पर मामला दर्ज किया जाए। इससे मेजर एवं उसके कई साथियों की मुतीबतें बढ़ सकती हैं। यह किसी से छिपा नहीं है कि मेजर सिंह का रिश्तेदार अमरजीत सिंह मिट्ठा कैनेडियन है और भारत आकर अवैध धरना प्रदर्शन करना उसके लिए काफी नुकसानदेह हो सकता है।

अब मेजर सिंह एवं उनके साथियों के खिलाफ कोई कार्यवाही होती है या नहीं यह तो पुलिस कमिश्नर ही तय करेंगे मगर यह कहना गलत नहीं होगा कि जिस प्रकार दोनों पक्षों की तरफ से आरोप-प्रत्यारोप लगाए जा रहे हैं उससे जालंधर में राजनीतिक गतिविधियां अपनी चरम सीमा पर पहुंच चुकी है और आने वाले दिन काफी हलचल वाले साबित हो सकते हैं।

इस संबंधी जब मेजर सिंह का पक्ष जानने के लिए उन्हें फोन किया गया तो उन्होंने पूर्व की भांति इस बार भी फोन नहीं उठाया जिससे उनका पक्ष प्राप्त नहीं हो सका। जैसे ही उनका पक्ष प्राप्त होगा उसे भी प्रमुखता से प्रकाशित किया जाएगा।

Post a Comment

Translate »